बड़ी खबर 👉 रुद्रपुर में कानून को ठेंगा दिखाते हुए हाईकोर्ट के वकील को खुलेआम दो बदमाशों ने सारे बाजार गोली मारी शहर में मची सनसनी

ख़बर शेयर करें

अजय अनेजा 👉 एडिटर इन चीफ 👉 रुद्रपुर 👉रुद्रपुर शहर के मुख्य बाजार में मोबाइल पर बात कर रहे हाईकोर्ट के अधिवक्ता पर बाइक सवार बदमाशों ने गोली चला दी। हादसे में एक गोली उनके दाहिने पैर को चीरते हुए निकल गई। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश आसानी से बाइक पर फरार हो गए। युवक को आनन-फानन में निजी और जिला अस्पताल में ले जाया गया। प्राथमिक इलाज के बाद उनकी हालत खतरे से बाहर है। पूरी घटना एक दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है और पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी है।

गदरपुर के वार्ड नंबर दो स्थित शिशु मंदिर रोड निवासी प्रशांत सिंह पेशे से हाईकोर्ट में अधिवक्ता है। उनके पास यूथ कांग्रेस के गदरपुर विधानसभा क्षेत्र के अध्यक्ष की भी जिम्मेदारी है। प्रशांत का काशीपुर रोड पर फ्लाईओवर के पास सी लिंक ओवरसीज नाम से आइलेट्स संस्थान है। बृहस्पतिवार दोपहर ढाई बजे प्रशांत अपने भाई सत्यम के साथ एक जमीन का स्टांप बनवाने के लिए गांधी पार्क के पास एक दुकान के पास कार से पहुंचे थे। कार से उतरकर प्रशांत दुर्गा मंदिर धर्मशाला के पास मोबाइल पर किसी से बात कर रहे थे और सत्यम कार पार्क कर रहा था।

इसी बीच बाजार की तरफ से बाइक सवार दो युवक प्रशांत के पास पहुंचे थे और दोनों ने मुंह पर कपड़ा बांधा था। बदमाश के इरादे भांपकर प्रशांत थोड़ा दूर हुआ तो बाइक पर पीछे बैठे युवक ने उतरकर प्रशांत पर पिस्टल से दो गोलियां दाग दीं। इसके बाद दोनों आसानी से फरार हो गए। दो गोली लगने के बाद प्रशांत सड़क पर गिर गए। इसी बीच कार पार्किंग कर रहा छोटा भाई सत्यम वहां पहुंचा और घायल प्रशांत को आसपास के लोगों की मदद से इलाज के लिए काशीपुर रोड स्थित निजी अस्पताल में पहुंचाया। निजी अस्पताल में इलाज के बाद प्रशांत को जिला अस्पताल ले जाया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग अस्पताल पहुंच गए।
वही प्रभारी कोतवाल जगदीश ढकरियाल टीम के साथ मौके पर पहुंचे थे। सूचना पर एसपी सिटी मनोज कत्याल ने मौका मुआयना करने के साथ ही अस्पताल पहुंचकर मामले की जानकारी ली। घटनास्थल के पास एक दुकान पर लगे सीसीटीवी कैमरे में पूरी घटना कैद हो गई। पुलिस सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों को चिह्नित करने में जुटी है। घायल के पिता ने बताया कि बेटे के कूल्हे और दाहिनी टांग के नीचे गोली लगी है।

घटनास्थल से जब्त किए दो खोखे
दिनदहाड़े गोलीकांड की सूचना से पुलिसकर्मियों के हाथ-पांव फूल गए। पुलिसकर्मियों के साथ व्यापारी भी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दुर्गा मंदिर धर्मशाला के ठीक सामने से 32 बोर के दो खोखे भी जब्त किए। एक खोखा तो सड़क पर पानी भरे गड्ढे में था। इसे पुलिस ने गड्ढे से पानी साफ कर कब्जे में लिया। प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष संजय जुनेजा ने दिनदहाड़े हुई घटना को चिंताजनक करार दिया। कहा कि बदमाश बेखौफ होकर आए और युवक को गोली मारकर चले गए। यह कानून व्यवस्था के लिहाजा से अच्छा संकेत नहीं है। कहा कि वारदात को अंजाम देने वाले जल्द पकड़े जाएं।

एसएसपी को बताया था, बेटे की जान को है खतरा
जिला अस्पताल पहुंचे घायल प्रशांत के पिता अनिल सिंह ने कहा कि उनका बेटा यूथ कांग्रेस का गदरपुर विधानसभा क्षेत्र अध्यक्ष है और सामाजिक कार्यों में सक्रिय रहता है। डेढ़ साल पहले उन्हाेंने एसएसपी से बेटे की जान को खतरा बताते हुए हत्या की साजिश होने की शिकायत की थी लेकिन एसएसपी ने उनकी शिकायत का संज्ञान नहीं लिया था और उनको ही गलत ठहराया था। उस समय भी बेटे पर हमला हुआ था और एक केस रुद्रपुर कोतवाली में दर्ज हुआ था। एक महीने पहले ही गदरपुर एसओ को नामजद तहरीर दी थी और उसे दर्ज नहीं किया गया था।
पिता ने पुलिस से सवाल किया कि उन्होंने उनका केस दर्ज क्यों नहीं किया। कहा कि एक साल पहले उनके बड़े बेटे सुमित ने आत्महत्या की थी। इसका कारण उनको बाद में पता चला था। जिन लोगों ने गोलीकांड को अंजाम दिया है, उनको लोगों ने ही सुमित को परेशान कर रखा था। इस कारण उसने आत्महत्या की थी। पुलिस अधिकारियों को बार-बार सचेत किया था। मुख्यमंत्री से निवेदन किया है कि गोलीकांड में शामिल लोगों को जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए।

छह सेकेंड में वारदात को अंजाम देकर भागे हमलावर
प्रशांत सिंह पर गोली चलाने वाले हमलावर अभ्यस्त अपराधी थे। केवल पांच सेकेंड में पिस्टल से दो गोली चलाने के बाद आराम से वे चलते बने। दोनों ने सफेद कपड़े से मुंह ढका हुआ था और स्पेंलडर बाइक से पहुंचे थे। बाइक चलाने वाले बदमाश ने आसमानी और गोली चलाने वाले ने लाल रंग की टीशर्ट पहनी थी। दोनों हमलावर युवा लग रहे हैं, लेकिन उनका चेहरा ढका होने की वजह से पहचान में नहीं आ पा रही है।
कानून व्यवस्था भगवान भरोसे : भुल्लर
यूथ कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर ने घटना पर तीखी प्रतिक्रिया जताई है। उन्होंने बयान जारी कर कहा है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था भगवान भरोसे है। पुलिस की एक दल विशेष के दबाव में काम करने की नीति ही कानून व्यवस्था को चौपट कर रही है। पुलिस विपक्ष को दबाने का काम कर रही है। कहा कि अगर प्रशांत पर गोली चलाने वालों की जल्द गिरफ्तारी नहीं हुई तो आंदोलन किया जाएगा।

सीसीटीवी फुटेज में आए दोनों हमलावरों को चिन्ह्ति करने की कार्यवाही की जा रही है। बाजार और अन्य जगहों पर सीसीटीवी फुटेज खंगाली जा रही है। संज्ञान में आया है कि घर से निकलते समय सुमित की कार के आगे पीछे एक कार घूम रही थी। पुरानी रंजिश, राजनैतिक प्रतिद्वंद्विता के कोण पर भी जांच की जा रही है। मामले के खुलासे के लिए चार टीमें गठित की गई हैं और एक टीम डिबडिबा भेजी गई है।
– मनोज कत्याल, एसपी सिटी।

पूर्व पालिकाध्यक्ष का पोता है घायल प्रशांत
रुद्रपुर गोलीकांड में घायल प्रशांत सिंह का परिवार कांग्रेस पृष्ठभूमि का है। उनकी दादी लीलावती गदरपुर नगर पालिका अध्यक्ष रह चुकी हैं। उनके पिता अनिल सिंह उत्तर प्रदेश के एक सहकारी बैंक में कार्यरत हैं। प्रशांत के बड़े भाई सुमित सिंह ने 26 मार्च 2023 को आत्महत्या कर ली थी। 28 मई 2023 को एडवोकेट प्रशांत सिंह को युवक कांग्रेस कमेटी गदरपुर विधानसभा का अध्यक्ष मनोनीत किया गया था। अक्तूबर 2023 में प्रशांत को कांग्रेस अनुसूचित विभाग के प्रदेश महासचिव पद का दायित्व भी सौंपा गया था।

Ad