बड़ी खबर 👉जिलाधिकारी नैनीताल वंदना ने वन विभाग एवं जिला प्रशासन की संयुक्त टीम के साथ जल भराव की समस्या के समाधान हेतु किया क्षेत्रों का दौरा एवं 👉 यह दिए आदेश

ख़बर शेयर करें

अजय अनेजा 👉 एडिटर इन चीफ 👉 लालकुआं 👉 बिंदुखत्ता👉बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाए जाने सहित मानसून सीजन से पहले नगर और आसपास के क्षेत्रों में होने वाले व्यापक जलभराव की समस्या के समाधान हेतु जिलाधिकारी वंदना लालकुआं पहुंची। इस दौरान उन्होंने राजीव नगर बंगाली कॉलोनी सहित राजकीय प्राथमिक विद्यालय रेलवे का निरीक्षण किया और यहां होने वाले जलभराव की समस्या के समाधान हेतु संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए हुए कहा कि मानसून सीजन से पहले सभी व्यवस्थाएं दुरुस्त कर लें ताकि आम जनमानस को दिक्कतों का सामना न करना पड़े।

गौरतलब है कि मानसून सीजन के समय राजीव नगर बंगाली कॉलोनी क्षेत्र में बड़े पैमाने पर जल भराव होता है जिसको लेकर कई बार अधिकारियों और नेताओं द्वारा निरीक्षण भी किया जाता है मगर आज तक समस्या का समाधान नहीं हो सका है। वहीं जिलाधिकारी वंदना के निरीक्षण और संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करने से क्षेत्रवासी आश्वासस्त दिखाई दे रहे हैं।

इसी दौरान डीएम वंदना ने एक बुजुर्ग महिला के घर पहुंच कर उनकी समस्याओं को भी सुना और तहसीलदार मनीषा बिष्ट को निर्देशित करते हुए बुजुर्ग दंपत्ति को वृद्धावस्था पेंशन की सुविधा दिए जाने के निर्देश दिए। इसके अलावा जिलाधिकारी वंदना ने राजीव नगर बंगाली कॉलोनी क्षेत्र में सफाई व्यवस्थाओं को दुरुस्त रखने के लिए उप जिला अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि इस क्षेत्र में साफ सफाई के लिए नगर पंचायत लालकुआं के साथ अनुबंध करा दिया जाए ताकि सफाई व्यवस्था दुरुस्त रहे जिस पर क्षेत्रवासियों ने जिलाधिकारी का आभार भी जताया है बताते चलें कि ये क्षेत्र नगर पंचायत में शामिल नहीं है और वर्तमान यहां स्वच्छता समिति के माध्यम से साफ सफाई होती है ।

साथ ही यहां वन विभाग के गेस्ट हाउस में वन अधिकार समिति और वन विभाग के अधिकारियों संग बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाए जाने को लेकर बैठक की।

उन्होंने बताया कि बिंदुखत्ता को राजस्व गांव बनाया जाना मुख्यमंत्री की घोषणा में शामिल है इसी के दृष्टिगत समिति की बैठक की गई और तमाम बिंदुओं पर विचार विमर्श किया गया। उन्होंने कहा कि ब्लॉक स्तरीय समिति ने अपनी रिपोर्ट जिला स्तर पर भेज दी है जिसे शासन स्तर पर संदर्भित किया गया है। इस दौरान जिलाधिकारी के साथ वन विभाग वन निगम सिंचाई विभाग जिला प्रशासन सहित तमाम विभागों के अधिकारीगण मौजूद रहे।

Ad